50

कारन अगर रोने का पूछे तो फ़कत इतना कह देना…. मुझे हँसना नही आता, जहाँ पर वो ना हो…. ******* ऐ मोहब्बत तू शर्म से डूब मर,एक शख्श को तू मेरा ना कर सकी…!!! *******मैने कभी जुठ बोलना सीखा नही, ईसीलीये तो कई लोग मूजसे नफरत करते है… *******अब तो डरने लगा हुँ मैं …जब कोई कहता हैं की “मेरा विश्वास तो करो”. *******अजब दस्तूर है ज़माने का,, लोग यहाँ पूरी इमानदारी से अपना ईमान बेचते हैं,, *******तड़पते है नींद के लिए तो यही दुआ निकलती है !!! बहुत बुरी है मोहबत, किसी दुश्मन को भी ना हो…!! *******शेर अगर चूप है तो इसका मतलब ये नही .की वो दहाड़ना भूल गया… *******इंसान बिकता है … कितना महँगा या सस्ता ये उसकी मजबूरी तय करती है…! *******अजीब कहानी है इश्क और मोहब्बत की, उसे पाया ही नहीं फिर भी खोने से डरता हूँ… *******

मैं हर काम गलत करता हु पर ,, कोई गलत काम नहीं करता। *******वो मोबाइल के इक फोल्डर में तेरी तस्वीरें इकठ्ठा की है मैंने.. बस इसके सिवा और ख़ास कुछ जायदाद नहीं है मेरी..!! *******देखना .. एक दिन बदल जाऊगा पूरी तरह मैं, तुम्हारे लिए न सही.. लेकिन…तुम्हारी वजह से ही सही..!! *******दिलों से खेलना हमे भी आता हे , पर जीस खेल में खिलौना टूट जाये ; वो खेल हमे पसंद नही । *******कुछ खास नही बस इतनी सी है मोहब्बत मेरी .. !! हर रात का आखरी खयाल और हर सुबह की पहली सोच हो तुम…!!! *******अजीब सा जहर है तेरी यादों मै..!! मरते मरते मुझे सारी ज़िन्दगी लगेगी…!! *******खुदा करे, सलामत रहें दोनों हमेशा, एक तुम और दूसरा मुस्कुराना तुम्हारा. *******वक़्त भी लेता है करवटें कैसी कैसी, इतनी तो उम्र भी ना थी जितने सबक सीख लिए हमने… *******वो अल्फाज़ ही क्या जो समझाने पड़े.. मैनें मोहब्बत की थी वकालत नहीं…!! *******लोग आपके पास क्या है वो देखते है, आप क्या है वो नहीं देखते.!! *******जब चाहूँ तुम्हे मिल नहीं सकता, लेकिन जब चाहूँ तुम्हे याद कर सकता हूँ …. *******हमें अपना इश्क़ तो एक तरफा और अधूरा ही पसंद है; पूरा होने पर तो आसमान का चाँद भी घटने लगता है.. *******मुझसे अगर पूछना है तो मेरे जज्बात पूछ, जात और औकात तो सारी दुनिया को पता है! *******जिंदगी के किसी मोड़ पर अगर हम बुरे लगें, तो ज़माने को बताने से पहले हमको बता देना! *******कुछ दिन तो तेरी यादें वापस ले ले.. 'पागल' मैं कई दिनों से सोया नहीं….!! *******तलाश में बीत गई सारी जिंदगानी; अब समझा की खुद से बड़ा कोई हमसफ़र नहीं होता… *******मैंने तो बस उसको पाने की ज़िद्द की थी… मेरा खुदको खोने का कोई इरादा नहीं था… *******बस ज़ायके में थोड़ा कड़वा है.. वरना सच का कोई ज़वाब नहीं ॥ *******कुछ ऐसे हादसे भी होते हैं जिंदगी में.. इंसान बच तो जाता है पर जिंदा नहीं रहता. *******मैं क्या जानूँ दर्द की कीमत ? मेरे अपने मुझे मुफ्त में देते हैं ! *******माँ के बिना दुनिया की हर चीज कोरी है । दुनिया का सबसे सुंदर संगीत माँ की लोरी है । *******“क्षमा करने से पिछला समय तो नहीं बदलता, लेकिन इससे भविष्य सुनहरा हो उठता है।” *******अकल कितनी भी तेज ह़ोनसीब के बिना नही जित सकती , बिरबल काफी अकलमंद होने के बावजूद..कभी बादशाह नही बन सका । *******मैं बड़ो कि इज़्जत इसलिए करता हु, क्यूंकि उनकी अच्छाइया मुझसे ज़्यादा है… और छोटो से प्यार इसलिए करता हु,क्यूंकि उनके गुनाह मुझसे कम है… *******वो दिन जो गुजरे तेरे साथ…. काश….जिँदगी उतनी ही होती….. *******इतनी ठोकरे देने के लिए शुक्रिया, ए-ज़िन्दगी.. चलने का न सही,,,, सम्भलने का हुनर तो आ गया… ******* प्यार तो अचानक ही हो जाता है, इरादे से जो हो उसे तो सेटिंग कहते है. *******दिल तो यु ही किसी का चुरा लेते हम… मगर माँ कहेती है चोरी करना बुरी बात हे… *******तेरे गुरूर को देखकर तेरी तमन्ना ही छोड़ दी हमने, ज़रा हम भी तो देखे कौन चाहता है तुम्हे हमारी तरह…!!! *******वो भी क्या दिन थे.. जब घड़ी एकाध के पास होती थी और समय सबके पास होता था……….. ******* स्याही थोड़ी कम पड़ गई वर्ना किस्मत तो अपनी भी खूबसूरत लिखी गई थी.. *******माना के किस्मत पे मेरा कोई ज़ोर नही…. पर ये सच ह के मोहब्बत मेरी कमज़ोर नही, मलहम नही तो हमारे जख्मो पर नमक ही लगा दे. हम तो तेरे छूने से ही ठीक हो जायेंगे .. *******तुम भी कर के देख लो मोहब्बत किसी से; जान जाओगे कि हम मुस्कुराना क्यों भूल गए। ******मैं क्यों कहूँ उससे की मुझसे बात करो….! क्या उसे नहीं मालूम की उसके बिना मेरा दिल नहीं लगता….! *******बाजार के रंगों से रंगने की मुझे जरुरत नही…. पगली तेरी याद आते ही ये चेहरा गुलाबी हो जाता है. *******इन्सान दीवारें बनाता है और उसके बाद यह सोचकर परेशान होता रहता है कि दीवार के पीछे क्या हो रहा है…..!!! *******उदासियों की वजह तो बहुत है जिंदगी मे.. पर बेवजह खुश रहने का मजा ही कुछ और है.. ******* मुझे भी पता था की लोग बदल जाते हैं अक्सर.. मगर मैंने कभी तुम्हे लोगो मे गिना भी तो नहीं था.. ******* क्यों घबराता है पगले दुःख होने से, जीवन तो प्रारम्भ ही हुआ है रोने से। *******चलता रहूँगा मै पथ पर, चलने में माहिर बन जाउंगा.. या तो मंज़िल मिल जायेगी, या अच्छा मुसाफिर बन जाउंगा.. ******* दुसरा मौका सिफॅ कहानियां देती है, जिंदगी नहीं…. *******प्यार का पहला.. इश्क का दूसरा और मोहब्बत का तीसरा अक्षर अधूरा होता है। हम तुम्हे इसलिए चाहते हैँ, क्योँकि चाहत का हर अक्षर पूरा होता है। *******तेरा प्यार भी प्याज कि तरह निकला. परतें खुलती गयी आंसूं निकलते गए….. *******ना किसी के आभाव में जियो, ना किसी के प्रभाव में जियो, ये जिंदगी आपकी है, बस इसे अपने मस्त स्वाभाव में जियो. *******शादी करंट के तार की तरह होती हैं…!!! सही जुड़ जाये तो सारा जीवन रोशन…!!!! और गलत जुड़ जाये तो जिंदगी भर झटके…!!! *******हमारे मुल्क में ईमानदारी फुटबाल की तरह है ! पसंद सभी करते हैं,,,, पर खेलता कोई कोई ही है !! *******