45

प्यार भी कितना प्यारा शब्द है पूरा कहने से पहले ही एक होठ दूसरे होठ को चुम लेते है.. प्यार एक जीवन है , जिसके साथ जिन्दगी बिताने बाला चाहिये ! प्यार एक हीरा है ,जिसको खोजने बाला चाहिये ! प्यार एक रिश्ता है , जिसको अपनाने बाला चाहिये ! प्यार एक अहसास है , जिसको महसूस करने बाला चाहिये ! प्यार एक दीवानगी है , जिसमें खो जाने बाला चाहिये ! प्यार एक खुशी है , जिसको बाँटने बाला चाहिये ! प्यार एक बेजुवाँ शब्द है , जिसको बोलने बाला चाहिये ! प्यार एक विश्वास है , उसमें साथ चलने बाला चाहिये ! प्यार एक गम भी है , जिसमें आँसुं पोछने बाला चाहिये प्यार एक आशिकी है , जिसका साथ निभाने बाला चाहिये ! ******* दुआ हैं हमारी …….!!!!! ज़िन्दगी में हररोज वो चहेरां मुस्कुराता मिले.. जिस चहेरे को आप रोज आइने में देखते हो……!!!!! ******* मुझे छोड़कर वो जिस शख्स के पास गयी, बराबरी का भी होता तो सब्र आ जाता।। ******* रोज तेरा इंतजार होता है रोज ये दिल बेकरार होता है, काश तुम समझ सकते कि चुप रहने वालों को भी किसी से प्यार होता है. ******* कुछ लम्हे बिताएं हैं मैंने तेरे संग, कैसे कह दूं खुद को कि बदनसीब हूं मैं…. ******* मैंने पूछ लिया- क्यों इतना दर्द दिया कमबख़्त तूने, वो हँसी और बोली- मैं ज़िंदगी हूँ पगले तुझे जीना सिखा रही थी। ******* निकाल कर जिस्म से…अपनी जान दे देता है.. बडा ही मजबूत है…वो पिता…जो कन्यादान देता है… ******* काश दर्द के भी पैर होते। थक के रुक तो जाते कंही। ****** मौत शायद इसी को कहते है, दिल अब किसी कि ख्वाहिश नहीं करता..!! ******* हसरतेँ पुरी ना हो तो ना सहीँ, ख्वाब देखना तो कोई गुनाह नही । ******* मजबूर ना करेंगे तुझे, वादे निभाने के लिए…. तू एक बार वापस आ अपनी यादें ले जाने के लिए… *******देखा करो कभी अपनी माँ की आँखों में, ये वो आईना है जिसमें बच्चे कभी बूढ़े नहीं होते. *******मैंने कहा प्यार अधूरा ही रहता है अक्सर वो हँसते हुए बोला पूरा करके खत्म नहीं करना है मुझे.!! *******एक चाहत थी तेरे साथ जीने की, वरना मोहब्बत तो किसी से भी हो सकती थी !! ******* जब भी चाहा सिर्फ तुम्हे चाहा, पर कभी तुम से कुछ नही चाहा.. ******* सोचता हूँ तो छलक उठती हैं मेरी आँखें तेरे बारे में न सोचूँ तो अकेला हो जाऊँ.. ******* ए चिरागों ना इतराओ तुम खुद पर इतना…. तुमसे तेज़ तो हमारे दिल जला करते है… *******कौन कम्बख्त मोबाईल की परवा करता है? यहाँ तो दिल हैंग हो गया है.. ******* मैँने अपना गम आसमान को क्या सुना दिया… शहर के लोगों ने बारीश का मजा ले लिया…. *******हर बेटी के भाग्य मे पिता होता है। पर हर पिता के भाग्य मे बेटी नहीं होती|| *******जब वक्त आया तो वो बिक चुका था, मुझे अमीर होने मे जरा सी देर हो गई ! *******कभी किसी की याद बहुत तड़पाती है और कभी यादों के सहारे ज़िन्दगी कट जाती है.. *******” लोग माँ बाप कि “नसीहत” तोभूल जाते हे, पर उनकी “वसीयत” नहीं भूलते…” ******* चलो ये जुर्म भी कबूल है जो तेरी इजाज़त के बगैर तुझे अपना समझा… *******महोब्बत तो किसी एक से होती है…….. औरों से तो बस समझौते होते हैं….. *******एक तेरे सिवा हम किसी और के कैसे हो सकते हैं तुही खुद सोच तेरे जैसा कोई और है क्या… *******“किसीके अच्छाई का इतना भी फायदा मत उठाओ की वो बुरा बनने के लिये मजबुर बन जाये…” ” बुरा ” हमेशा वही बनता हे,जो ” अच्छा ” बनके टूट चूका होता हे ! *******“ज़िन्दगी जीने के लिए खुदा ने दी थी, और मैंने किसी के इंतज़ार में गुज़ार दी. ******* एक वो है, जो देता बेहिसाब है….. और एक हम है…… जो नाम भी जपते हैं तो गिन-गिन के..! *******नही बसती किसी और की सुरत अब इन आँखो मे…… काश की हमने उसे इतने गौर से ना देखा होता……. ******* ज़िद्द मत किया करो मेरी दास्तान सुनने की.., मैं हँस कर कहूँगा तो भी तुम रोने लगोगे…! *******आसानी से कोई मिल जाये तो यह किस्मत की बात है ! सब कुछ खो कर भी जो ना मिले उसे मोहब्बत कहते हैं ! शायद।। ******* वो ना भी मिले तो क्या हुवा..? इश्क है हवस नही.. *******

किसी को अपना बनाना, हुनर ही सही, लेकिन किसी का बन के रहना कमाल होता है.. ******* कोई पूछ रहा मुझसे मेरी जिंदगी की कीमत . मुझे याद आ रहा है तेरा हल्का सा मुस्कुराना !! *******ना मेरा दिल बुरा था न उसमें कोई बुराई थी,,, सब मुक़्क़दर की खेल है बस किस्मत में जुदाई थी… *******मोहब्बत दस्तक दे भी तो भला कैसे दे… गरीबों के घर में तो दरवाजे ही नहीं होते… *******हम तो पागल है जो शायरी में ही दिल की बात कह देते है…. “लोग तो गीता पे हाथ रखके भी सच नहीं बोलते !!!” *******ये जो चंद फुर्सत के लम्हे मिलते हैं जीने के लिए, मैं उन्हें भी तुम्हे सोचते हुए ही खर्च कर देता हूँ!! ******* मैं वो हूँ जो कहता था कि इश्क में क्या रखा है। आजकल एक हीर ने मुझे राँझा बना रखा है। *******तूने मेरा “आज” देख के मुझे ठुकराया है, हमने ताे तेरा”गुजरा कल” देख के भी मुहाेब्बत की थी..!! ******* जिंदगी अंधे भिखारी का कटोरा हो गई है.. लोग खुशियाँ डालते कम उठाते ज्यादा है .. *******“जब नफरत करते करते थक जाओगी… तब एक मौका प्यार का भी देना!!!” *******

इतने बुरे ना थे जो ठुकरा दिया तुमने हमेँ. तेरे अपने फैसले पर एक दिन तुझे भी अफसोस होगा!!! *******सिखा न सकी ,… जो उम्र भर तमाम किताबें मुझे ,… करीब से कुछ चेहरे पढ़े ,… और न जाने कितने सबक सीख लिए ,… *******खुदा ने जानबुझ के नहीं लिखा उसे मेरी किस्मत में…. के सारे जहाँ की खुशियाँ एक ही शख्स को कैसे दे दूँ…!!!! *******इस ज़िन्दगी की ज़िद तो देखो….. उनको भुलाने के लिए भी..उनको याद करना पड़ता है…की हम उन्हें भूलना चाहते है**एक रोटी न दे सका कोई उस नादान को , लेकिन वो तस्वीर लाखों में बिक गई जिसमे वो भूका बैठा था। ” *******तुम मेरे पास थे,,,हो,,,और रहोगे सदा…. खुदा का शुक्र है,यादों की कोई उम्र नहीं होती…. *******