|| JAY SHREE KRISHNA || All Proof Of Shrimad Bhagwad Geetaji.













वास्तव मेँ कौन है भगवान श्रीकृष्ण।













{चेतावनी : हमारा उद्देश हिंदु धर्म के भावनावोँ को ठेस पहुचांना नहीँ है, बल्की भगवान श्रीकृष्णजी के मुखार विंद से उत्पन्न हुयी श्रीमदभागवत् गिताजी के श्लोक सेँ भम्र मे जिने वाले सामान्य आदमी को अवगत कराना है।}



















* हिन्दु धर्म के अनुसार श्रीविष्णुजी अवतार लेकर असुरो का संहार करते है, लेकिन उनके दस अवतारोँ मेँ भगवान श्रीकृष्ण को रखना उचित प्रतित नहीँ होता । वास्तव मे श्रीराम श्रीविष्णुजी का अवतार है पर भगवान श्रीकृष्ण का अवतार निर्गुण निरामय और निराकार परमेश्वर ने लिया है।

जीँ हा हम जो कह रहे है, वो श्रीमदभागवत् गिताजी के माध्यम से कह रहे है । जो हिन्दु धर्म का धर्म ग्रंथ है पर वो भी नाम का क्योकी, कोई भी व्यक्ति ना गिता पढना चाहता है, और ना समझना।













हम आप के सामने अपना पहला मुद्दा रखते है और उसके कुछ प्रमाण गिताजी के माध्यम से समझाने का प्रयत्न करते है ।







'क्या श्रीराम और श्रीकृष्ण एकही हैँ' ? 'क्या श्रीविष्णु और श्रीकृष्ण एकही हैँ' जब हम गिता के वचनो को समझेंगे तो जवाब नहीँ मेँ आयेगा ।

1 ला प्रमाण अगले पेज पर...अगला पेज







"परब्रह्म परमेश्वर" का अवतार हैँ भगवान श्रीकृष्ण, विष्णुजी का नहीँ, विष्णुजी देवता हैँ परमेश्वर नहीँ... जानिये कैसे ?







"परब्रह्म परमेश्वर" भगवान श्रीकृष्ण की किसी भी मामले मेँ बराबरी नहीँ कर सकते शिव शंकर महादेव, शिव देवता हैँ परमेश्वर नहीँ... जानिये "शिवपुराण" का तथ्य ?







जो अपना सर कटने से नहीँ बचा सके वे गणेशजी भी नहीँ हैँ परमेश्वर, गणपती और श्रीकृष्ण को एक ही मानना मुर्खता... जानिये कैसे ?







ब्रह्माजी ब्रह्मदेव हैँ "परब्रह्म" नहीँ, ब्रह्माजी देवता हैँ परमेश्वर नहीँ... जानिये कैसे ?







श्रीराम को प्रभु माननेवाले रुद्र के अवतार हनुमानजी भी नहीँ हैँ परमेश्वर, हनुमानजी देवता हैँ परमेश्वर नहीँ... जानिये कैसे ?







"शिवपुराण" के आधार से त्रिदेव हरीहरब्रह्मा सृष्टी चलाने वाले देवता हैँ परमेश्वर नहीँ... सबसे बडा सच जानिये कैसे ?







"श्रीमदभगवद गिता" के आधार पर जानिये, परमेश्वर और देवताओँ को एक ही मानना सबसे बडी अज्ञानता, और सब भगवानो को एक मानना सबसे बडी मुर्खता... जानिये कैसे ?







भगवान श्रीकृष्णको पुराण प्रसिद्द दस अवतारो मेँ रखना कितनी बडी अज्ञानता... जानिये कैसै ?







त्रिदेवोँ के सत्य, कैलास, वैकुंठ तथा क्षिराब्धी मेँ नहीँ हैँ मोक्ष...जानिये कैसे ?







अपनी भी एक वेब साईट बनाईये...

Make your own free website